neerajbora

सेवाएं

जनहित में विशेष सेवा कार्य

  • मातृ एवं शिशु कल्याण पर दो दिवसीय राष्ट्रीय सेमिनार इमडप, लखनऊ में।
  • वृक्क प्रबन्धन सेमिनार का आयोजन लखनऊ में।
  • पीने योग्य पानी पर सेमिनार।
  • मातृत्व एवं स्तनपान-लाभ पर लखनऊ में सेमिनार।
  • अवसाद प्रबंधन पर लखनऊ में सात दिवसीय कार्यशाला।
  • जनसंख्या नियंत्रण पर लखनऊ में कार्यशाला।
  • स्वास्थ्य-भोजन व उनके प्रभाव पर कार्यशाला सेवा अस्पताल लखनऊ में।
  • संक्रामक रोग रोकथाम सप्ताह का लखनऊ में आयोजन ।
  • ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में सामुदायिक स्वास्थ्य हेतु विभिन्न स्वास्थ्य शिविरों का 1992 से लगातार आयोजन।
  • ग्रामीण क्षेत्र में 4000 से ज्यादा स्वास्थ्य परीक्षण शिविरों का आयोजन।
  • 40 से ज्यादा नेत्र आपरेशन शिविरों का आयोजन जिसमें लगभग 25 हजार आपरेशन आई.ओ.एल. विधि द्वारा किये गये।
  • लगभग 45 हजार जरूरतमंद रोगियों को निःशुल्क परामर्श एवं दवा वितरण हेतु ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य मेलों का आयोजन।
  • लगभग 500 से अधिक ट्राईसाइकिल, व्हील चेयर एवं हियरिंग एड्स का दान।
  • रक्तदान शिविरों के माध्यम से लगभग 5 हजार लोगों को रक्तदान हेतु प्रेरणा।
  • झोलाछाप डाक्टरों के खिलाफ मुहिम में सक्रिय योगदान।
  • सेवा अस्पताल में निःशुल्क आर.सी.एच. कार्यक्रम।
  • विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं पर नियमित सी.एम.ई. कार्यशालाओं का आयोजन।
  • टीकाकरण अभियान में 37 केन्द्रों के माध्यम से लगभग 24 हजार लोगों का हेपटाइटिस-बी टीकाकरण।

सामुदायिक नेतृत्व विकास के क्षेत्र में किये गये कार्य

  • एन.बी.आर.आई. प्रेक्षागृह लखनऊ में क्षमता वृद्धि व नेतृत्व विकास कार्यशाला।
  • शंघाई होटल, सप्रू मार्ग, लखनऊ में लक्ष्य निर्धारण एवं नेतृत्व विकास प्रशिक्षण।
  • हल्द्वानी में नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन।
  • लखनऊ में नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन।
  • प्रसिद्व प्रबन्धन गुरू शिव खेड़ा की नेतृत्व अभिमुखीकरण कार्यशाला का लखनऊ में आयोजन।
  • किशोरों हेतु क्षमता वृद्वि कार्यशालाओं (3 दिवसीय) का चरन होटल में आयोजन।
  • आवासीय नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यशाला (4 दिवसीय) का लखनऊ खजुराहो, दिल्ली व आगरा में आयोजन।

समाज सेवा के क्षेत्र में विशेष कार्य:

  • अंतर्राष्ट्रीय मुशायरे का आयोजन जिसमें जरदोजी और चिकनकारी के कारीगरों को सम्मानित किया गया।
  • “इक्कीसवीं शताब्दी में भूमण्डलीकरण एवं नागर समाज” विषयक गोष्ठी का होटल चरन इंटरनेशनल, लखनऊ में आयोजन।
  • भारत छोड़ो आंदोलन की वर्षगांठ पर 43 स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का शहीद स्मारक, लखनऊ में तत्कालीन महामहिम राज्यपाल उ.प्र. श्री विष्णुकान्त शास्त्री की उपस्थिति में सम्मान।
  • बाढ़ सहायता कोष में रू. 2,50,000 एकत्र कर वर्ष 2003, 2004 व 2005 में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत सामग्री का वितरण।
  • ‘कल्याणम् करोति’ एवं ‘मंगलम्’ के सहयोग से कल्याण मंडप लखनऊ में 153 ट्राईसाईकिल, 71 व्हीलचेयर्स, 63 हीयरिंग एड्स, 55 कैपिलर्स, 15 आर्टिफिशियल लिम्ब्स एवं 33 क्रचेज का वितरण।
  • महिला दिवस के अवसर पर राज्यपाल श्री विष्णुकान्त शास्त्री की उपस्थिति में 8 महिला सामाजिक कार्यकर्ताओं का आई.एम.ए. भवन, लखनऊ में सम्मान।
  • 1 नवम्बर 2003 को राज्यपाल श्री विष्णुकान्त शास्त्री की उपस्थिति में लखनऊ में “विश्व शान्ति मार्च” का आयोजन।
  • उन्नाव में फ्लोराइड प्रभावित क्षेत्रों में जन शुद्विकरण हेतु योजना निर्माण।
  • चैक, लखनऊ व निकटतम क्षेत्रों में जरदोजी व चिकनकारी कार्य में लगे जरूरतमंद लोगों के कल्याण हेतु परियोजना निर्माण ।
  • आल इंडिया कमर फाउंडेशन द्वारा लखनऊ की नामचीन, अजीम शख्सियतों का सम्मान।
  • भोजपुरी समाज के अनेकों कार्यक्रम में सक्रिय योगदान।
  • लखनऊ में श्रीमद्भागवत कथा का कई बार आयोजन- वर्ष जनवरी 2000 में लोहिया पार्क में और दिसम्बर 2005 में कुड़ियाघाट, चैक, लखनऊ में श्री मृदुलकृष्ण जी शास्त्री द्वारा। धार्मिक कार्याें में तन-मन-धन से सक्रिय सहभागिता। रामलीला रंग मण्डलियों को सहयोग व प्रोत्साहन।
  • मड़ियांव क्षेत्र में अग्निकाण्ड द्वारा विस्थापित गरीब लोगों के भोजन व कपड़े की व्यवस्था तथा उनके राहत व पुर्नवास का प्रबन्ध।
  • कालरा के प्रकोप के दौरान चैक, लखनऊ में वृहद स्तर पर राहत सामग्री का वितरण।
  • जाड़ों में जरूरतमंद व गरीब लोगों को कम्बल वितरण।
  • कैंसर के रोगियों को सहयोग, सहायता एवं उत्साहवर्धन।
  • जापानीज इंसेफलाइटिस के रोगियों को सहयोग एवं सहायता।
  • सुनामी प्रभावित लोगों की सहायता हेतु रू. 3.5 लाख का संचय कर प्रधानमंत्री राहत कोष में दान।
  • शासन, मीडिया, एकेडमिया, जनता व अन्य स्टेकहोल्डर्स के साथ “अपराधों के नियन्त्रण में आम आदमी की भूमिका” विषयक कार्यशाला का लखनऊ में आयोजन।

अन्तर्राष्ट्रीय समझ एवं सहयोग के क्षेत्र में

  • लखनऊ के नेत्र विशेषज्ञों की टीम का श्रीलंका के डाक्टरों को मोतियाबिन्द का फेकोइमल्सीफिकेशन विधि द्वारा आपरेशन के प्रशिक्षण हेतु भ्रमण व्यवस्था
  • सद्भावना मिशन हेतु डेनवर, कनाडा का भ्रमण। नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यशाला, डेनवर, यू.एस.ए. में भी भागीदारी
  • अंतर्राष्ट्रीय समझ व भाईचारे पर बांग्लादेश व नेपाल में आयोजित संगोष्ठी में भारत का प्रतिनिधित्व
  • डेट्रायट यू.एस.ए. में 194 देशों के अंतर्राष्ट्रीय महासम्मेलन में भागीदारी
  • मैत्री मिशन हेतु सेन डियागो, कोलोराडो, टेक्सास, लास वेगास व फिलेडेलफिया फ्रांस एवं स्विटजरलैण्ड का भ्रमण
  • वर्ष 2005 में लायन्स अंतर्राष्ट्रीय महासम्मेलन में भाग लेने हेतु हांगकांग का भ्रमण
  • लायन्स अंतर्राष्ट्रीय संगठन के साउथ कोरिया के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष टी-सप.ली. को लखनऊ में सेवा परियोजनाओं हेतु भ्रमण करने में विशेष भूमिका
  • माॅरीशस से मजबूत एवं भावनात्मक जुड़ाव। कई बार माॅरीशस यात्रा।

© 2017 डा। नीरज बोरा सर्वाधिकार सुरक्षित।